बच्चे जनने के द्वारा उद्धार पाएंगी इस वाक्य का सही भावार्थ क्या है?

👨‍👩‍👧‍👦 1 तीमुथियुस 2:15 का अर्थ क्या है?👨‍👩‍👧‍👦
बच्चे जनने के द्वारा उद्धार पाएंगी इस वाक्य का सही भावार्थ क्या है?
(विस्तार से जानना है, तो पूरा पढ़िए। अन्यथा समय बचाना है, तो सीधा “सही अनुवाद और अर्थ” नामक निम्नलिखित भाग से पढ़िए।)
▪▫▪▫▪▫▪▫▪
1 तीमुथियुस 2:15 तौभी बच्चे-जनने के द्वारा उद्धार पाएंगी, यदि वे संयम सहित विश्वास, प्रेम, और पवित्रता में स्थिर रहें॥
1Timothy 2:15 Notwithstanding she shall be saved in childbearing, if they continue in faith and charity and holiness with sobriety.

आओ, इसका सही अनुवाद और अर्थ समझते है।
इस वचन को समझने के लिए, इस वचन में “बच्चे-जनने” और “उद्धार” शब्द का यूनानी अनुवाद देखेंगे। जिससे हमे ठीक ठीक पता लगे की यूनानी में इस शब्द को किस भावार्थ से समझा जाता था। क्योंकि हमे भी वैसा ठीक ठीक समझना चाहिए।
▪▫▪▫▪▫▪▫▪
👩🏻 A. इस वचन में “बच्चे-जनने” का यूनानी शब्द teknogonias है।
इस का मुख्य अर्थ “बच्चा-जनना” है और अन्य अर्थ में “पालन पोषण करना” भी होता है।
👨‍👩‍👧‍👦 इस तरह teknogonias का परिपूर्ण अर्थ बच्चा जनना और पालन पोषण करना है।
इस तरह यह शब्द माँ का बच्चों के प्रति जिम्मेदारी निभाने को दर्शाता है।
.
👩🏻 B. इस वचन में उद्धार का यूनानी शब्द sōthēsetai है।
इस का मुख्य अर्थ तिन है।
1.ठीक होना/do well, 2.बच जाना/be saved, 3.सम्पूर्ण होना/be whole है।
अन्य अर्थ में ठीक होना को 4.चंगा होना/be healed और बच जाने को 5.सुरक्षित होना/preserve कहते है।
.

  1. ठीक होना/do well
    ठीक होने को बच जाना और चंगा होना भी कहा जाता है।
    यूहन्ना 11:12 तब चेलों ने उस से कहा, हे प्रभु, यदि वह सो गया है, तो बच जाएगा।
    John 11:12 Then said his disciples, Lord, if he sleep, he shall do well.
    इस तरह इस वचन में sōthēsetai का अर्थ ठीक होना/do well है।
    .
  2. बच जाना/be saved
    बच जाने को उद्धार पाना भी कहा जाता है। हिंदी अनुवाद में उद्धार पाना लिखा है, परंतु सही अर्थ बच जाना है।
    मत्ती 10:22 मेरे नाम के कारण सब लोग तुम से बैर करेंगे, पर जो अन्त तक धीरज धरे रहेगा उसी का उद्धार होगा।
    Mat 10:22 And ye shall be hated of all [men] for my name’s sake: but he that endureth to the end shall be saved.
    इस तरह इस वचन में sōthēsetai का अर्थ बच जाना/be saved है।
    .
  3. सम्पूर्ण होना/be whole
    सम्पूर्ण होने का अर्थ प्रत्येक वाक्य में अलग हो सकता है। जैसे की, खाली पन को दूर कर परिपूर्ण हो जाना, या अधूरेपन को छोड़ पहले के जैसा पूरा होना, या पहले के सम्पूर्ण अवस्था को प्राप्त करना या फिर जीवन का कमी दूर कर सम्पूर्ण होना।
    इस वचन में सम्पूर्ण होने का अर्थ पहले के परिपूर्ण दशा को प्राप्त करना है।
    लूका 8:50 यीशु ने सुनकर उसे उत्तर दिया, मत डर; केवल विश्वास रख; तो वह बच जाएगी।
    Luke 8:50 But when Jesus heard it, he answered him, saying, Fear not: believe only, and she shall be (made) whole.
    इस तरह इस वचन में sōthēsetai का अर्थ सम्पूर्ण होना/be whole है।
    .
    इस तरह 1तीमुथियुस 2:15 के वचन में sōthēsetai का अर्थ ठीक होना या चंगा होना और बच जाना या सुरक्षित होना नही हो सकता है।
    👨‍👩‍👧‍👦 इसलिए इस वचन में sōthēsetai का सही अर्थ सम्पूर्ण होना/be whole है।
    ▪▫▪▫▪▫▪▫▪
    👩🏻 सही अनुवाद और अर्थ
    1 तीमुथियुस 2:15 तौभी बच्चे जनने के द्वारा उद्धार पाएंगी, यदि वे संयम सहित विश्वास, प्रेम, और पवित्रता में स्थिर रहें॥
    हिंदी अनुवाद में चूक होने के कारन इसका अर्थ गलत ठहरता है।
    .
    👩🏻 अनुवाद
    जैसा की हमने दो शब्दों के सही अर्थ को देखा, उसी के अनुसार आओ हम इस वचन के उचित अनुवाद को देखे।
    👇👇👇👇👇👇👇👇👇
    👨‍👩‍👧‍👦 1 तीमुथियुस 2:15 तौभी बच्चे जनने(और पालन पोषण करने) के द्वारा संपूर्ण होती है , यदि वे संयम सहित विश्वास, प्रेम, और पवित्रता में स्थिर रहें॥
    1Timothy 2:15 Notwithstanding she shall be (made) whole in childbearing(and rearing), if they continue in faith and charity and holiness with sobriety.
    👇👇👇👇👇👇👇👇👇
    👩🏻 अर्थ
    1 तीमुथियुस अध्याय 2 के वाचन 9 से 15 में स्त्रियों का परमेश्वर, कलीसिया, पति, परिवार और बच्चों के प्रति जिम्मेदारियों का अर्थात आज्ञा का जिक्र किया गया है।
    फिलाल हम मुख्य रूप से वाचन 15 को समझेंगे, जो की वचन 13 और 14 से जुड़ा है।
    1 तीमुथियुस 2:13 क्योंकि आदम पहिले, उसके बाद हव्वा बनाई गई।
    1 तीमुथियुस 2:14 और आदम बहकाया न गया, पर स्त्री बहकाने में आकर अपराधिनी हुई।
    ऐसा होने के कारन, परमेश्वर ने स्त्री को पुरुष के प्रति अधीन होने का आज्ञा दिया। उसी तरह पत्नी को अपने पति के प्रति अधीन होने का आज्ञा है।
    1 तीमुथियुस 2:15 तौभी बच्चे जनने(और पालन पोषण करने) के द्वारा संपूर्ण होती है , यदि वे संयम सहित विश्वास, प्रेम, और पवित्रता में स्थिर रहें॥
    (प्रेरित ने इस वचन में बच्चा जनना अर्थात पालन पोषण करने को, कर्तव्य निभाने के तौर पर कहा है। यदि किसी को बच्चा नही हो, तो यह नही की वो अधूरा है। परंतु स्त्री ने सभी के प्रति अपना कर्तव्य पूरा करने से सम्पूर्ण ठहरती है, यही प्रेरित कहना चाह रहे थे।)
    👨‍👩‍👧‍👦 > इस वचन में प्रेरित यही कह रहे है की, चाहे स्त्री पहले बहकाई गई हो या अपराधिनी हुई हो। फिर भी बच्चा जनने और उनका पालन पोषण के द्वारा अपने कर्तव्य को पूरा करने से संपूर्ण स्त्री बन जाती है। ऐसा इसलिए क्योंकि अब वो पहले सा उस गलती को होने को न देगी; परंतु वह अपने परमेश्वर, पति, बच्चों, कलीसिया और समाज के प्रति सभी जिम्मेदारियों को और आज्ञाओं का पालन करने वाली होती है। इसतरह यदि स्त्री ने सभी के प्रति जिम्मेदारियों और आज्ञाओं के प्रति संयम सहित विश्वास, प्रेम, और पवित्रता में स्थिर रहें, तो अवश्य उस स्त्री को फिर कोई बहका नही सकता और फिर न कभी अपराधिनी ठहरेगी। तो ही वचन 9 से 15 अनुसार ऐसे सभी जिम्मेदारियों या आज्ञाओं और स्वाभाव या गुणों से भरी हुई स्त्री सम्पूर्ण और परिपूर्ण ठहरती है।
    यही इस वचन का सही अर्थ है।
    .
    1 तीमुथियुस 2:9 वैसे ही स्त्रियां भी संकोच और संयम के साथ सुहावने वस्त्रों से अपने आप को संवारे; न कि बाल गूंथने, और सोने, और मोतियों, और बहुमोल कपड़ों से, पर भले कामों से।
    1 तीमुथियुस 2:10 क्योंकि परमेश्वर की भक्ति ग्रहण करने वाली स्त्रियों को यही उचित भी है।
    फिलिप्पियों 2:12 सो हे मेरे प्यारो, जिस प्रकार तुम सदा से आज्ञा मानते आए हो, वैसे ही अब भी न केवल मेरे साथ रहते हुए पर विशेष करके अब मेरे दूर रहने पर भी डरते और कांपते हुए अपने अपने उद्धार का कार्य पूरा करते जाओ।
    ▪▫▪▫▪▫▪▫▪
    प्रभु की शांति आपके साथ बनी रहे। आमीन।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *